हापुड़

सिपाहियों को रिश्वत लेना पड़ गया एसपी ने तत्काल किया सस्पेंड

[Uttar Pradesh] जनपद हापुड़ में पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र की एचपीडीए चौकी पर तैनात दो सिपाहियों पर नौ हजार रुपये की रिश्वत लेने के आरोप में मुकदमा दर्ज हुया है। दोनों सिपाहियों पर पिलखुवा कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत कर हिरासत में लिया गया है।एसपी ने दोनों सिपाहियों को सस्पेंड कर विभागीय जांच शुरू कर दी है। जिसके बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।

पीड़ित मनिनन्दर निवासी दुवलधन थाना बेरी जिला झज्जर हरियाणा का रहने वाला है।16 अगस्त को अपने ट्रक से कनार्टक के मददुर से ट्रक में कच्चे नारियल लेकर मुरादाबाद के लिए वापस लौट रहा था। जिसको ड्राइवर सन्नू खान लोड करके पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र की मारवाड़ चौकी क्षेत्र पर स्थित नेशनल हाइवे 9 के फ्लाइओवर पर ट्रक व बस की टक्कर हो गई थी। एक्सीडेंट की सूचना पर मारवाड़ चौकी पर तैनात दो सिपाही यशवीर सिंह ओऱ गौरव ने पहुँच कर हाईवे से ट्रक व बस को हटवाकर यातायात सुचारु कराया था। जिसके बाद दोनो सिपाहियों ने ट्रक को कब्जे में लेकर चौकी पर खड़ा कर दिया था।

ट्रक चालक ने दोनों सिपाहियों से ट्रक के माल को दूसरे वाहन में ले जाने के लिये कहा था।माल दूसरे वाहन में पलटी कराने के नाम पर दोनों सिपाहियों ने एक लाख रुपये की डिमांड रखी थी। आखिर में ट्रक से माल पलटी करने की सेटिंग दोनोँ सिपाहियों से 25 हजार में तय की गई ।जिसकी ऑडियो रिकॉर्डिंग पीड़ित के दोस्त हरियाणा के जनपद रोहतक के टीटोली के मंजीत ने अपने फोन में कर ली। जिसके कुछ देर बाद ही दोनो सिपाहियों ने पीड़ित को चौकी पर बुलाकर 9 हजार रुपये ले लिए।जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने बाकी रुपये देने के बाद ही माल पलटी करने के लिये कहा। जिसकी शिकायत उसने थाने पर दी थी।

एसपी ने सभी पुलिसकर्मियों को दी हिदायत। एसपी अभिषेक वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि पीड़ित मनिनन्दर की तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत किया गया था। दोनों पुलिसकर्मियों को खिलाफ मुकदमा दर्ज कर विभागीय कार्यवाही की जा रही है। दोनों पुलिसकर्मी यशवीर व गौरव को गिरफ्तार कर सस्पेंड की कार्रवाई की गई है। सभी थाना प्रभारियों से सहित अन्य पुलिसकर्मियों को एसपी ने निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी हाल में खाकी की छवि को धूमिल नहीं होने दिया जाएगा। कोई पुलिसकर्मी ऐसा करता पाया गया तो सख्त से सख्त कार्यवाही अमल में लायी जाएगी।

Show More

Related Articles

Back to top button